नैनीताल में कोरोना का असर प्रवासी मजदूर लौटने लगे अपने शहर

नैनीताल में कोरोना का असर प्रवासी मजदूर लौटने लगे अपने शहर

रिपोर्ट- नैनीताल
नैनीताल- कोरोना की दूसरी लहर उत्तराखंड में कहर बरपा रही है आए दिन प्रदेश में संक्रमितों की संख्या बढ़ती जा रही है साथ ही मौतों का भी आंकड़ा आए दिन बढ़ रहा है। हालांकि एतिहातन प्रदेश सरकार द्वारा पूरे प्रदेश में दुकानों को दो बजे तक ही खोलने की अनुमति दी गई है वहीं शाम 7 बजे से सुबह 5 बजे तक कर्फ्यू भी घोषित किया गया है।
नैनीताल जनपद में भी कोरोना काफी हद तक अपने पैर पसार चुका है जिसके चलते प्रशासन द्वारा हल्द्वानी,रामनगर व लालकुआं में संपूर्ण लॉकडाउन घोषित किया है।

नैनीताल नगर में भी आए दिन संक्रमितों की संख्या बढ़ती जा रही है जिसके चलते अब प्रवासी मजदूर भी अपने शहरों को लौटने लगे हैं बुधवार को बिहार के एक दर्जन मजदूर नैनीताल से वापस बिहार को लौट गए हैं।


मजदूरों का कहना है कि काम नहीं मिलने के चलते तथा लॉकडाउन होने से पहले वे लोग अपने घरों तक पहुंच जाना चाहते हैं क्योंकि बीते वर्ष लॉकडाउन के चलते मजदूरों को अपने घरों तक पहुंचने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा था।

उत्तराखंड