बेजुबानों का सहारा बनी फराह खान

बेजुबानों का सहारा बनी फराह खान

रिपोर्ट- भीमताल
भीमताल-(नैनीताल)- कोविड की दूसरी लहर के चलते पूरे प्रदेश में लॉकडाउन घोषित किया गया है जिसके चलते बीते वर्ष की तरह इस वर्ष भी असहाय लोगों के साथ ही बेजुबान जानवरो पर भी खाने पीने का संकट मंडराने लगा है।

असहाय लोगों की मदद के लिए तो अक्सर लोग आगे आ रहे है तो वही कही लोग ऐसे है जो इस कोरोना काल में इंसानों के साथ ही बेजुबान जानवरों की निःस्वार्थ मदद कर रहे है।ऐसा ही कुछ कर रही है भीमताल निवासी हिमालयन जन सेवा फाउंडेशन की अध्यक्ष फराह खान।
फराह खान भीमताल के टापू में रहने वाली बतखों को रोजाना खाना देने का नेक काम करती है और घंटों तक उनके साथ वक्त भी बिताती है उन्होंने अपनी इस मुहिम में लोगों से आगे आने की अपील की।


फराह खान की अपील को सुनने के बाद नगर की भागीरथी फाउंडेशन संस्था आगे आयी और फराह खान के द्वारा किये जा रहे नेक कार्य की सराहना करते हुवे फाउंडेशन के अध्यक्ष मनोज भट्ट द्वारा हिमालयन जन सेवा फाउंडेशन को आर्थिक मदद प्रदान की गई और आगे भी मदद का भरोसा दिलाया गया।
फराह खान व भागीरथी फाउंडेशन की साझा प्रयासों के बाद अब भीमताल झील की शान बतखों को काफी दिनों तक खाना दिया जा सकता है।

उत्तराखंड