बलियानाले क्षेत्र में रिस रहा पानी बुझायेगा नैनीताल वासियों की प्यास

बलियानाले क्षेत्र में रिस रहा पानी बुझायेगा नैनीताल वासियों की प्यास

रिपोर्ट- नैनीताल
नैनीताल- भूगर्भीय दृष्टि से अति संवेदनशील बलियानाला क्षेत्र में लगातार हो रहे पानी के रिसाव को लेकर जिला प्रशासन गंभीर हो गया है। डीएम ने क्षेत्र का स्थलीय निरीक्षण कर पानी लिफ्टिंग को गठित कमेटी के सदस्यों को जल्द पानी की उपलब्धता जांचने के लिए दो से तीन स्थानों पर बोरिंग करने के निर्देश दिए।

जिलाधिकारी ने बताया आईआईटी रुड़की और जायका द्वारा जियो फिजिकल सर्वे की रिपोर्ट से इस क्षेत्र में लगभग 200 मीटर की लंबाई में पानी का भूमिगत स्रोत है इन स्रोतों से लगभग 8 एमएलडी पानी निकल रहा है। जायका और आईआईटी रुड़की द्वारा पूर्व में किए सर्वे के आधार पर चिन्हित जगहों में बोरिंग कर पानी निकालने का काम शुरू किया जाएगा। उन्होंने मौके पर अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा इस परियोजना पर जल्द से जल्द काम शुरू किया जाए ताकि भूमिगत पानी से नगर में पेयजल की आपूर्ति सुनिश्चित की जा सके साथ ही लगातार बलियानाले में हो रहे धसाव को रोका जा सके।


इसके साथ ही डीएम ने कहा कि जीआईसी स्कूल से जीजीआईसी स्कूल के बीच दो से तीन स्थानों पर बोरिंग की जाएगी जिसमें प्रति बोरिंग में करीब 40 से 50 लाख का खर्च आएगा जिसके बाद पानी की पर्याप्तता को देखते हुए उसे लिफ्ट करने की योजना तैयार की जाएगी।
इस दौरान एडीएम अशोक जोशी,एसडीएम प्रतीक जैन, सिंचाई विभाग अधिशासी अभियंता एचसी सिंह, जल संस्थान अधिशासी अभियंता संतोष उपाध्याय,अधिशासी अधिकारी अशोक वर्मा, लोनिवि अधिशासी अभियंता दीपक गुप्ता समेत तमाम अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे।

उत्तराखंड