बेजुबानों का सारथी बना भागीरथी फाउंडेशन- झील में वास करने वाली बतखों को भोजन कराने का उठाया जिम्मा

बेजुबानों का सारथी बना भागीरथी फाउंडेशन- झील में वास करने वाली बतखों को भोजन कराने का उठाया जिम्मा

रिपोर्ट- भीमताल
भीमताल-(नैनीताल)- नगर की प्रमुख सामाजिक संस्था भागीरथी फाउंडेशन लगातार जनसेवा में अपनी भूमिका निभाता आ रहा है और अपने मूल कर्तव्यों के प्रति एक सजग प्रहरी के रुप में अपने कार्यो को संपादित कर रहा है।

फाउंडेशन जहाँ बेसहारा,मजलूमों व जरूरत मंदों का सहारा बन रहा है वहीं बेजुबानों के प्रति भी वो हमेशा से ही अपनी जिम्मेदारी का बखूबी निर्वहन कर रहा है इसी कड़ी में भागीरथी फाउंडेशन ने झील की शान व अठखेलियों से सबका दिल अपनी ओर आकर्षित करने वाली बतखों को खाना खिलाने का काम कर बड़ा सराहनीय कदम उठाया है।


आज जहाँ कोरोना काल में लोगों को जीवन यापन करना मुश्किल हो गया है वहीं दूसरी तरफ बेजुबान पशु-पक्षियों के लिए भी बड़ा संकट खड़ा हो गया है।

ऐसे ही बेजुबान पशु-पक्षियों की देखरेख व खानपान की समस्या को देखते हुए भागीरथी फाउंडेशन के अध्यक्ष मनोज भट्ट ने संवेदनशीलता दिखाते हुवे भीमताल झील में वास करने वाली दर्जनों बतखों को खाना खिलाने का जिम्मा उठाते हुवे संस्था के सदस्यों को इस नेक कार्य मे लगाया है जिसके तहत मनोज भट्ट सहित संस्था के तमाम सदस्य रोजाना इनको ब्रेड व रोटी खिलाते है और इनके साथ पूरा वक्त भी बिताते हैं।
भागीरथी फाउंडेशन की इस पहल का आज हर आम व खास जमकर सराहना कर रहा है।

उत्तराखंड