कोरोना की जंग जीतने के बाद पहली बार कार्यालय पहुँचने पर नगरपालिका अध्यक्ष का हुआ स्वागत

कोरोना की जंग जीतने के बाद पहली बार कार्यालय पहुँचने पर नगरपालिका अध्यक्ष का हुआ स्वागत

रिपोर्ट- नैनीताल
नैनीताल- बीते 20 अप्रैल को नगर पालिका अध्यक्ष सचिन नेगी में कोरोना की पुष्टि हुई थी जिसके बाद उनको क्वारन्टीन कर दिया गया था फिर 23 अप्रैल को अचानक तबीयत ज्यादा खराब होने पर उनको हल्द्वानी रेफर कर दिया था। जहाँ पर वे लगभग एक महीने तक कोरोना की जंग लड़ते रहे आखिरकार 25 मई को उन्होंने कोरोना की जंग जीत ली जिसके बाद मंगलवार को कार्यालय पहुँचने पर पर्यावरण मित्रो,नगर पालिका कर्मचारियों व सभासदों द्वारा फूल मालाओं के साथ उनका स्वागत किया गया।

पालिका अध्यक्ष सचिन नेगी जब लोगों से मिले तो उन्होंने कहा कि अब वे पूर्ण तरह से स्वस्थ हैं और अब नई उर्जा से कार्य करने को ललायित है। उन्होंने कहा कि इस महामारी के दौर में कई लोगो ने अपने परिजनों को खोया है ऐसे परिवारों के प्रति मेरी शोक संवेदनाए है साथ ही नगर के वरिष्ठ पत्रकार स्व प्रशांत दीक्षित को भी उन्होंने श्रद्धांजलि व्यक्त करते हुए कहा कि पत्रकारिता के क्षेत्र में स्वर्गीय प्रशांत दिक्षित अपनी एक अलग पहचान रखते थे, उनका व्यवहार हमेशा लोगों के दिलों में जीवित रहेगा उनका यूं अचानक चले जाना पत्रकारिता जगत के लिए ही नहीं बल्कि पूरे क्षेत्र के लिए अपूरणीय क्षति है।


इस दौरान पर्यावरण मित्र धर्मेश प्रसाद,सोनू सहदेव,मंजीत,महेंद्र लाल, मनोज चौहान,मनोज कुमार, आनंद टांक विकास टांक,राम कुमार,विक्की,अमित सहदेव, अमित साजन, मुन्ना लाल, त्रिलोक,विक्की,ललित मोहन सहित नगर पालिका कमर्चारी मोहन चिलवाल,रितेश कपिल, शिवराज नेगी,हिमांशु,हंशा बहुगुणा,जफर अली व नगर पालिका समस्त सभासदों द्वारा पालिका अध्यक्ष का स्वागत किया।
इस दौरान नगरपालिका अध्यक्ष सचिन नेगी द्वारा सफाई कर्मचारियों को कोरोना किट भी वितरित की गयी।

उत्तराखंड