खिलवाड़- नैनीझील में बगैर लाइफ जैकेट के सैलानी कर रहे है नौकाविहार- सड़ी गली लाइफ जैकेट्स सिस्टम का चिढ़ा रही है मुंह

खिलवाड़- नैनीझील में बगैर लाइफ जैकेट के सैलानी कर रहे है नौकाविहार- सड़ी गली लाइफ जैकेट्स सिस्टम का चिढ़ा रही है मुंह

रिपोर्ट- नैनीताल
नैनीताल- पर्यटन नगरी नैनीताल की सुंदरता में चार चांद लगाने वाली प्रसिद्ध नैनीझील इन दिनों सैलानियों से गुलजार है यहाँ झील पर सैलानी नौकाविहार कर प्राकृतिक सौंदर्य का लुत्फ उठा रहे है।
लॉकडाउन खुलने के बाद से नैनीताल व आसपास के पर्यटन स्थलों पर सैलानियों की खासा आमद भी बढ़ने लगी है।
इन सबके बीच नैनीझील में इन दिनों सिस्टम का मुंह चिढ़ाती तस्वीरें कई सवाल खड़े कर रही हैं।

दरअसल नैनीझील में नौकाविहार करते समय सैलानियों को लाइफ जैकेट पहनना जरूरी होता है मगर इन दिनों झील में बगैर लाइफ जैकेट के सैलानियों को वोटिंग कराई जा रही है जो ना केवल नियमों की अनदेखी है बल्कि ये सुरक्षा की दृष्टि से भी बड़ा सवाल है कि आखिर क्यों जान से खिलवाड़ किया जा रहा है?
जब इस पूरे मामले पर नाव चालक संघ से वार्ता की गई तो उनका कहना है कि तीन साल पहले नगर पालिका द्वारा उनको 700 लाइफ जैकेट उपलब्ध कराई गई थी मगर करीब दो सालों से कोरोना की वजह से झील में नावों का संचालन नही हुआ और नावें खड़ी रही और कुछ जैकेट्स बरसात से खराब हो गई जिसके चलते सभी लाइफ जैकेट्स सड़ गल चुकी है ऐसे में जब वो सैलानियों को जैकेट पहनने को कहते है तो वो इनकी हालात देखकर पहनने से इंकार कर रहे हैं।


नाव चालकों ने पालिका प्रशासन से सैलानियों को सुरक्षित नौकाविहार कराने के लिये नई लाइफ जैकेट देने की मांग की है।
वही जब इस मामले पर नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी अशोक कुमार वर्मा से बात की गई तो उन्होंने रटा रटाया जवाब देते हुवे कहा कि वो नाव चालकों को जल्द ही नई जैकेट उपलब्ध कराएंगे और नाव चालकों को सख्त निर्देश जारी कर सभी सैलानियों को लाइफ जैकेट पहनाकर ही झील की सैर कराने को कहेंगे।

अब देखने वाली बात ये होगी कि आखिर कब तक पालिका प्रशासन नाव संचालकों को नई लाइफ जैकेट्स देकर झील पर असुरक्षित सफर तय कर रहे सैलानियों को सुरक्षा देने में कामयाब होता है ये तो वक्त ही बतायेगा अभी हाल फिलहाल तो झील की तस्वीरें बहुत चौकाने वाली है।

उत्तराखंड