एनयूजेआई की पहल पर उत्तराखंड शासन ने मृतक पत्रकारों के परिजनों को वितरित की आर्थिक सहायता- नैनीताल में दो मृतक पत्रकारों के परिजनों को डीएम ने सौंपे पांच-पांच लाख के चेक

एनयूजेआई की पहल पर उत्तराखंड शासन ने मृतक पत्रकारों के परिजनों को वितरित की आर्थिक सहायता- नैनीताल में दो मृतक पत्रकारों के परिजनों को डीएम ने सौंपे पांच-पांच लाख के चेक

रिपोर्ट- नैनीताल
नैनीताल- देशभर में पत्रकारों के हक-हुकुको की सत्ता व शासन से लड़ाई लड़ने वाली प्रमुख नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स(इंडिया) को एक बार फिर से बड़ी सफलता मिली है।
कोरोना काल में जान की बाजी लगाकर समाज में घटने वाली घटनाओं को अपनी लेखनी के जरिये सिस्टम तक पहुंचाने वाले कई पत्रकारों की कोरोना के चलते जान चली गई थी ऐसे में मृतक पत्रकारों के परिजनों को सरकारों द्वारा आर्थिक मदद दिलवाने की मांग को एनयूजे इंडिया ने पुरजोर तरीके से उठाया और नतीजा ये कि उत्तराखंड सरकार ने ऐसे सभी मृतक पत्रकारों के परिजनों को आर्थिक सहायता देने की घोषणा करते हुवे सभी पांच-पांच लाख रुपयों की धनराशि जारी कर दी।
नैनीताल में आज कोरोना काल में संक्रमण से ग्रसित मान्यता प्राप्त पत्रकार दिवंगत प्रशांत दीक्षित व न्यूज चैनल के पत्रकार दिवंगत हरीश आर्या के परिजनों को शासन द्वारा जारी पांच-पांच लाख रुपयों की आर्थिक सहायता भेंट की गई।

नैनीताल जिलाधिकारी कार्यालय में हुवे एक सूक्ष्म कार्यक्रम के दौरान जिलाधिकारी धीराज गर्ब्याल ने उक्त पत्रकारों के निधन पर शोक व्यक्त करते हुवे दिवंगत पत्रकार प्रशांत दीक्षित की पत्नी किरन दीक्षित व दिवंगत पत्रकार हरीश आर्या की पत्नी बसंती आर्या को पांच-पांच लाख रुपयों के चेक वितरित किये।
इस मौके पर एनयूजे इंडिया के नगर अध्यक्ष अफजल हुसैन फौजी ने शासन-प्रशासन व यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष रास बिहारी,प्रदेश अध्यक्ष कैलाश जोशी सहित सभी के प्रति आभार प्रकट किया।


इस दौरान सूचना उप निदेशक योगेश मिश्रा,यूनियन के प्रदेश उपाध्यक्ष डॉ गिरीश रंजन तिवारी,वरिष्ठ पत्रकार किशोर जोशी,माधव पालीवाल,डॉ नवीन जोशी,राजू पाण्डे,नवीन पालीवाल,संतोष बोरा,विनोद कुमार,मुनीब रहमान,रमेश चंद्रा,गुंजन मेहरा व आकांशी माड़वी मौजूद थे।

उत्तराखंड