कांग्रेस का विरोध- महंगाई व कोरोना जांच घोटाले को लेकर नैनीताल में राज्य सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा

कांग्रेस का विरोध- महंगाई व कोरोना जांच घोटाले को लेकर नैनीताल में राज्य सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा

रिपोर्ट- नैनीताल
नैनीताल- हरिद्वार कुंभ मेले के दौरान कोविड टेस्ट में हुए घोटाले के आरोपों के बीच राज्य सरकार की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं जिसको लेकर कांग्रेस व आम आदमी पार्टी प्रदेश भर में सरकार के खिलाफ धरना प्रदर्शन कर रही है।
मंगलवार को कांग्रेस जिलाध्यक्ष सतीश नैनवाल व नगर अध्यक्ष अनुपम कबड़वाल के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा तल्लीताल गांधी पार्क में हरिद्वार कोविड जांच घोटाले व महंगाई के विरोध में धरना प्रदर्शन किया गया तथा इस दौरान कार्यकर्ताओं द्वारा सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई।

जिलाध्यक्ष सतीश नैनवाल ने कहा कि सरकार ने हरिद्वार में कुंभ के दौरान ऐसी एजेंसी को कोरोना जांच करने के लिए टेंडर दे दिए जो सक्षम नहीं थी इसलिए कोरोना जांच कराए जाने के लिए छोड़े गए टेंडरों में साफ तौर पर राजनीति की बू आ रही है।
उन्होंने सवाल किया कि जो एजेंसी सक्षम नहीं थी उसे कुंभ जैसे विश्व स्तरीय आयोजन में कोरोना जांच का कार्य क्यों दिया गया जबकि जांच एजेंसी का भी कहना है कि गड़बड़ी उन्होंने नहीं बल्कि जांच करने वाली लैब ने की है इससे साबित हो रहा है कि सब कुछ सरकार की मिलीभगत से हुआ है।


वही भीमताल विधानसभा सीट से अपनी दावेदारी ठोक चुके वरिष्ठ कांग्रेस नेता गोपाल बिष्ट ने भीमताल विधायक पर निशाना साधते हुए कहा कि विधायक द्वारा क्षेत्र में कोई भी कार्य नही किए है उनके द्वारा केवल जेसीबी द्वारा जंगलों को काटकर अवैध सड़को का निर्माण कर अपनी विधायक निधि का दुरुपयोग किया जा रहा है।
इस दौरान जिला समन्वयक सतीश खेड़कर,वरिष्ठ कांग्रेसी रमेश पांडे व त्रिभुवन फर्त्याल सहित कई कांग्रेसी नेता व कार्यकर्ता मौजूद रहे।

उत्तराखंड