वन महोत्सव के तहत कुमाऊँ आयुक्त, जिलाधिकारी व एसएसपी ने पौधरोपण कर पर्यावरण संरक्षण का दिया संदेश

वन महोत्सव के तहत कुमाऊँ आयुक्त, जिलाधिकारी व एसएसपी ने पौधरोपण कर पर्यावरण संरक्षण का दिया संदेश

रिपोर्ट- नैनीताल
नैनीताल- कुमाऊं आयुक्त अरविन्द सिह हृयांकी, जिलाधिकारी धीराज सिह गर्ब्याल व एसएसपी प्रीति प्रियदर्शनी ने 1 से 7 जुलाई तक चल रहे वन महोत्सव के तहत मंगलवार को हनुमानगढी मे संयुक्त रूप से पौधारोपण कर पर्यावरण का संदेश दिया।
इस मौके पर आयुक्त अरविंद हृयांकी ने कहा कि हरेला महोत्सव पर वृहद पौधारोपण कार्यक्रम का आयोजन कुमाऊं मण्डल के प्रत्येक जिलों मे किया जायेगा।

उन्होने कहा कि पौधारोपण कार्यक्रम में जनप्रतिनिधियों के साथ ही क्षेत्रीय जनता की भी अधिक से अधिक सहभागिता सुनिश्चित की जाए।
अरविंद हृयांकी ने कहा कि जलीय क्षेत्रों, तालाब, चाल-खाल, नदियों आदि के किनारे पौधारोपण पर विशेष ध्यान दिया जाए। उन्होने कहा ऐसे भूस्खलन वाले क्षेत्र जहां पौधारोपण किया जाना सम्भव हो उन स्थानों पर भूस्खलन रोकने मे सहायक पौधों का रोपण किया जाऐ। जीव-जन्तुओं एवं मानव की आवश्यकताओं को ध्यान मे रखते हुए फलदार,चौडी पत्तीदार एवं जानवरों के चारे वाले पौधों का मुख्य रूप से रोपित किया जाए।


जिलाधिकारी धीराज सिह गर्ब्याल ने पौधारोपण कार्यक्रम को और व्यवस्थित ढंग से क्रियान्वित करने के निर्देश देते हुये कहा कि लगाये जाने वाले पौधों की देख-रेख हेतु अधिकारियों एवं कर्मचारियों को जिम्मेदारी दी जायेगी। उन्होने कहा हरेला महोत्सव पर जनपद में डेढ लाख विभिन्न प्रजातियो के पौधों का रोपण किया जायेगा।
नैनीताल वन प्रभाग के डीएफओ टीआर बीजूलाल ने कहा कि विभागीय स्तर पर करीब 17 लाख से अधिक पौंधो को रोपित किये जाने का लक्ष्य रखा गया है और नैनीताल वन प्रभाग में हरेले पर्व पर सड़क किनारे करीब 500 पीपल के वृक्षों के साथ ही पर्यावरणीय दृष्टि से अहम पौंधो को रोपित किया जायेगा।

इस मौके पर एसएसपी प्रीति प्रियदर्शनी,वन संरक्षक दक्षिण कुमाऊ कुबेर सिह बिष्ट,रेंजर प्रमोद तिवारी,ममता चन्द्र, तनुजा परिहार,सोनल पनेरू सहित अन्य अधिकारी व कर्मचारी मौजूद थे।

उत्तराखंड