सरोवर नगरी में सैलानियों का सैलाब तीसरी लहर के लिए हो सकता है घातक

सरोवर नगरी में सैलानियों का सैलाब तीसरी लहर के लिए हो सकता है घातक

रिपोर्ट- नैनीताल
नैनीताल- कोरोना गाइडलाइन में मिली ढील के बाद एक बार फिर से सरोवर नगरी नैनीताल में पर्यटकों का जमावड़ा लगना शुरू हो चुका है जो कि पर्यटन के दृष्टि से तो काफी सुखद है तो वही दूसरी और तीसरी लहर के लिए घातक भी सिद्ध हो सकती है।

शनिवार रविवार अवकाश के चलते रविवार को देश के अनेक राज्यो से भारी संख्या में सैलानी सरोवर नगरी नैनीताल पहुँचे हुए थे इस दौरान पर्यटकों द्वारा नैनीताल की पहचान नैनीझील में नौकायन का आनंद लेते हुए देखा गया तो पंत पार्क व मॉल रोड से खरीदारी करते हुए भी देखा गया।जिससे एक बार फिर से पर्यटन पर आधारित होटल व्यवसायियों,टैक्सी चालक, नाव चालक,फड़ व्यापारियों, के चेहरों पर खुशी की लहर देखने को मिल रही है तो वही दूसरी ओर पर्यटकों की इतनी संख्या कोरोना की तीसरी लहर के लिए घातक भी साबित हो सकती है।


हालांकि प्रशासन द्वारा रूसी बाईपास पर ही पर्यटकों की गाड़ियों को पार्क किया जा रहा है और वहाँ से शटल सेवा के माध्यम से पर्यटक नैनीताल पहुँच रहे है उसके वावजूद पर्यटकों की इतनी भारी संख्या कही ना कही कोरोना की तीसरी लहर को न्योता दे रही है।
प्रशासन की सुस्त भूमिका के चलते अक्सर पर्यटकों को बिना मास्क के घूम रहे है तो वोट स्टैंड वोटिंग टिकट काउंटर पर लोगो का हुजूम देखकर लगता है कि कोविड का कहर समाप्त हो चुका है।

उत्तराखंड