तीन मंजिला भवन बनने के बाद खुली प्राधिकरण की नींद- अवैध भवन की दीवारें करी ध्वस्त

तीन मंजिला भवन बनने के बाद खुली प्राधिकरण की नींद- अवैध भवन की दीवारें करी ध्वस्त

रिपोर्ट- नैनीताल
नैनीताल- हाईकोर्ट के सख्त निर्देशों के बावजूद नगर में बीते लंबे समय से धड़ल्ले से अवैध निर्माण किए जा रहे हैं लेकिन संबंधित विभाग जिला विकास प्राधिकरण गहरी नींद में सोया हुआ है।

अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि मल्लीताल सीआरएसटी स्कूल के पीछे की ओर चार माह में तीन मंजिला भवन खड़ा कर दिया गया और प्राधिकरण ने इसकी सुध तक नहीं ली।
लोगों की शिकायत के बाद मंगलवार को प्राधिकरण की नींद टूट गई है।
प्राधिकरण ने मौके पर जाकर अवैध निर्माण तोड़ने के साथ ही निर्माणकारी और ठेकेदार के खिलाफ कोतवाली में तहरीर दी है।

पुराना एनसीसी कार्यालय के समीप निशाद परवीन द्वारा बनवाया जा रहा तीन मंजिला भवन के ध्वस्तीकरण की कार्यवाही की गई।
निर्माणाधीन भवन के पीछे विशालकाय बांज का पेड़ भी गिरने की कगार पर है क्योंकि पेड़ की जड़ों को खोदकर वहाँ गहरा गड्ढा बनाया गया है जो कि बरसात के सीजन में आसपास के लोगों के लिये भी खतरा बना हुआ है।


सहायक अभियंता सतीश चौहान ने बताया कि पूर्व में चार बार भवन का निर्माण कार्य रुकवाया जा चुका है। जिसमें पूर्व में भी ध्वस्तीकरण की कार्रवाई की गई थी। जिसके बावजूद निर्माणकारी द्वारा अवैध निर्माण नहीं रोका गया। विभागीय टीम द्वारा ध्वस्तीकरण की कार्रवाई करने के साथ ही भवन स्वामी निशाद परवीन और ठेकेदार मोबिन के खिलाफ कोतवाली में तहरीर दी गई है बताया कि क्षेत्र में निर्माण कार्य सख्त कार्रवाई की जाएगी।

इस दौरान सहायक अभियंता विनोद चौहान,कनिष्ठ अभियंता कमल जोशी,पूरन तिवारी, महेश जोशी,इरशाद हुसैन, केशर गोस्वामी समेत अन्य कर्मी ध्वस्तीकरण करने में जुटे रहे।

उत्तराखंड