सुलभ व त्वरित न्याय दिलाने के मकसद से पहली बार कुमाऊं मंडल में अनुसूचित जाति आयोग कर रहा है जन सुनवाई- ऑन लाइन शिकायतों को दर्ज करने के लिये वेब साइड करी लांच

सुलभ व त्वरित न्याय दिलाने के मकसद से पहली बार कुमाऊं मंडल में अनुसूचित जाति आयोग कर रहा है जन सुनवाई- ऑन लाइन शिकायतों को दर्ज करने के लिये वेब साइड करी लांच

रिपोर्ट- नैनीताल
नैनीताल- जनता को सुलभ व त्वरित न्याय दिलवाने के मकसद से उत्तराखंड के कुमाऊं मंडल में पहली बार अनुसूचित जाति आयोग ने दो दिवसीय जन शिकायत सुनवाई शुरु की है जिसमे आयोग के उपाध्यक्ष पी सी गोरखा जन सुनवाई कर मौके पर ही समस्याओं का निस्तारण कर रहे हैं।

मंडल मुख्यालय नैनीताल में 18 अगस्त से चल रही जन सुनवाई में कुल 55 मामले दर्ज किये गये है जिनमें आयोग गंभीरतापूर्वक सुनवाई कर रहा है।
मंडल के नैनीताल,चम्पावत,पिथौरागढ़ व बागेश्वर जिलों से जमीन,मारपीट,स्कूलों से संबंधित,उत्पीड़न एवं छात्रवृति से जुड़े मामले आयोग के समक्ष आये हैं।


आयोग ने मामलों की तत्परता से सुनवाई करते हुवे अधिकारियों की जवाबदेही पर 10 प्रकरणों का निस्तारण कर दिया है।
अनुसूचित जाति आयोग के उपाध्यक्ष पी सी गोरखा ने कहा कि कोरोना काल में लोगों के लिये देहरादून आना मुश्किल हो रहा है ऐसे में आयोग ने जनता को सुलभ न्याय दिलवाने के लिये कुमाऊं में जन शिकायत सुनवाई करी है जिसमें मंडल के 4 जिलों को शामिल किया गया था।

पी सी गोरखा ने कहा कि आयोग ने ऑन लाइन शिकायतों को दर्ज करने के लिये पहली बार अपनी वेब साइड लांच(htt://sccommissionuk.org. in)की है इससे लोगों को अपनी शिकायत करने में सहूलियत होगी साथ ही उनका समय भी बचेगा और आयोग उनकी शिकायत का संज्ञान लेकर दोषियों के विरुद्ध सख्त कार्यवाही कर पीड़ितों को न्याय दिलवाएगा।

उत्तराखंड