देश में बढ़ते ओमिक्रॉन के बीच क्या चुनाव कराना संभव- नैनीताल हाईकोर्ट ने भारत निर्वाचन आयोग,भारत सरकार व राज्य सरकार को नोटिस जारी कर मांगा जवाब

देश में बढ़ते ओमिक्रॉन के बीच क्या चुनाव कराना संभव- नैनीताल हाईकोर्ट ने भारत निर्वाचन आयोग,भारत सरकार व राज्य सरकार को नोटिस जारी कर मांगा जवाब

रिपोर्ट- नैनीताल
नैनीताल- देश में लगातार बढ़ रहे कोरोना के नए वैरियंट ओमिक्रॉन के बीच आगामी विधानसभा चुनावों को लेकर क्या सरकार की कार्य योजना रहेगी कैसे चुनाव सम्पन्न होंगे इन्ही तमाम सारी दिक्कतों को देखते हुवे नैनीताल हाईकोर्ट ने भारत निर्वाचन आयोग,भारत सरकार सहित राज्य सरकार को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है और आगामी सोमवार तक सभी से चुनावी प्रक्रिया का स्टेट्स मांगा है।


आपको बता दें कि नैनीताल हाईकोर्ट में पहले से ही कोविड़-19 के मामले में एक याचिका दायर की गई है जिसमें याचिकाकर्ता सचिदानंद डबराल की तरफ से आज नैनीताल हाईकोर्ट में एक प्रार्थना पत्र दाखिल किया गया जिसमें कहा गया कि देश सहित उत्तराखंड में भी Omicron के केसेज बढ़ रहे हैं उसको देखते हुवे चुनावों को टाला जाये और जो नेताओं द्वारा जनसभा व रैलियां की जा रही हैं उनको On line किया जाये जिससे कि संक्रमण की रोकथाम की जा सके।
याची की तरफ से कहा गया कि जितनी भी जन सभाएं हो रही हैं उनमें कोविड़ नियमों का कोई पालन नहीं किया जा रहा है ना तो सामाजिक दूरी का पालन हो रहा है और ना ही लोग मास्क का प्रयोग कर रहे हैं लिहाजा इस पूरे मामले में भारत निर्वाचन आयोग को याचिका में पक्षकार बनाया जाये और उनसे पूछा जाये कि क्या चुनाव टाले जा सकते हैं जिस पर कोर्ट ने याची की प्रार्थना को स्वीकार करते हुवे भारत निर्वाचन आयोग को पक्षकार बनाते हुवे नोटिस जारी कर विस्तृत जवाब तलब किया है और मामले की अग्रिम सुनवाई के लिये आगामी 3 जनवरी की तिथि नियत की है।

उत्तराखंड