सीएम बोले- जल जीवन मिशन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का ड्रीम प्रोजेक्ट- अधिकारियों को हर घर जल अभियान में तेजी लाने के दिए निर्देश

सीएम बोले- जल जीवन मिशन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का ड्रीम प्रोजेक्ट- अधिकारियों को हर घर जल अभियान में तेजी लाने के दिए निर्देश

रिपोर्ट- देहरादून ब्यूरो
देहरादून-(उत्तराखंड)- मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सचिवालय में पेयजल विभाग की समीक्षा बैठक के दौरान अधिकारियों को निर्देश दिये कि जल स्रोतों के पुनर्जीवन की दिशा में ठोस कार्य योजना बनाई जाय और रेन वाटर हार्वेस्टिंग की दिशा में कार्य किये जाय साँथ ही इसे वर्क कल्चर में लाना जरूरी है।
सीएम धामी ने कहा जल संचय की दिशा में सबको मिलकर प्रयास करने होंगे इसमें जन सहयोग भी जरूरी है जन सहभागिता से होने वाले कार्यों के अच्छे परिणाम मिलते हैं।
मुख्यमंत्री ने निर्देश दिये कि जिस भी विभाग द्वारा वृक्षारोपण करवाया जाता है, उन वृक्षों के संरक्षण और संवर्द्धन की पूरी जिम्मेदारी भी संबधित विभागों की होगी। उन्होंने कहा कि नलकूप और हैण्ड पम्प जिस भी विभाग या संस्था द्वारा लगाये जा रहे हैं, उनके मेंटिनेंस के लिए उनकी जिम्मेदारी भी तय की जाय।

इसके अलावा मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि जल जीवन मिशन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का ड्रीम प्रोजेक्ट है जल जीवन मिशन के कार्यों में और तेजी लाई जाय।
मुख्यमंत्री ने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाय कि जल जीवन मिशन के तहत जिन घरों में नल लग चुका है उनमें शुद्ध गुणवत्ता युक्त पेयजल उपलब्ध हो हर घर नल, हर घर जल पहुंचाने के लिए अभियान चलाया जाय। पेयजल की उपलब्धता के लिए जो व्यावहारिक दिक्कते आ रही हैं उनका शीघ्रता से समाधान किया जाए। ग्रीष्मकाल में प्रदेश के किसी भी जनपद में पेयजल की कमी न हो इसके लिए उपलब्ध साधनों के साथ ही शीघ्र ही प्रत्येक जनपद को दो-दो वाटर टेंकर उपलब्ध कराये जाएं। गर्मियों में पेयजल समस्या का समाधान एक बड़ी चुनौती है।

उत्तराखंड