आशाओं का आंदोलन जारी- ग्रामीण इलाकों की आशाओं को मिला कांग्रेस का समर्थन

आशाओं का आंदोलन जारी- ग्रामीण इलाकों की आशाओं को मिला कांग्रेस का समर्थन

रिपोर्ट- नैनीताल
नैनीताल- अपनी 12 सत्रीय मांगो को लेकर कार्य बहिष्कार कर रहीं आशाओं के समर्थन में कांग्रेस भी खड़ी हो गई है।
सप्ताहभर से आंदोलन कर रही प्रदेशभर की आशाओं का आरोप है कि सरकार उनकी मांगों की अनदेखी कर रही है जिसका खामियाजा जनता को भुगतना पड़ रहा है।
नैनीताल के धारी क्षेत्र की आशाओं में सरकार के रवैये को लेकर खासा नाराजगी देखी जा रही है।

आशाओं के इस आंदोलन को समर्थन देने के लिये कांग्रेस भी मैदान में उतर आई है।
कांग्रेस की बरिष्ठ नेत्री व पूर्व जिला पंचायत सदस्य पूनम बिष्ट भी लगातार आशाओं के पक्ष में खड़ी होकर उनकी मांगों को मनवाने के लिये आंदोलन का समर्थन कर रहीं हैं।
आज यानी सोमवार को धारी तहसील में पर्वतीय क्षेत्र की समस्त आशाओं ने पूनम बिष्ट के नेतृत्व में धरना प्रदर्शन किया और सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी करी।


इस दौरान पूनम बिष्ट ने कहा कि आशाओं के आंदोलन से पहाड़ की स्वास्थ्य सेवाओं पर असर पड़ने लगा है और सरकार है कि इनकी तरफ कोई ध्यान नही दे रही है उन्होंने सरकार को आशाओं की मांगों को पूरा करने की नसीहत दी।
इस दौरान मुन्नी बिष्ट,लीला बिष्ट,सरिता बिष्ट व भगवती देवी सहित तमाम आशा कार्यकत्री मौजूद रहीं।

उत्तराखंड