नहीं थमा 26 साल पुराना वाद- संघर्ष जारी

नहीं थमा 26 साल पुराना वाद- संघर्ष जारी

रिपोर्ट- नैनीताल
नैनीताल- उत्तराखंड राज्य आन्दोलन के दौरान मुजफ्फरनगर कांड में शहीद लोगों को न्याय दिलवाने व दोषी अधिकारियों के विरुद्ध कानूनी कार्यवाही करवाने की मांग को लेकर पिछले कई वर्षों से उत्तराखंड आंदोलनकारी मंच का संघर्ष जारी है।
कानूनी पेंचों में फंसा 26 साल पुराना वाद एक बार फिर अपने संघर्ष की तरफ बढ़ने जा रहा है जिसमें आगामी 28 अगस्त को आंदोलनकारी लीगल सैल के अध्यक्ष रमन कुमार साह के नेतृत्व में एक प्रतिनिधि मण्डल मुजफ्फरनगर बार एसोसिएशन के साथ मिलकर मुजफ्फरनगर कांड से जुड़े तमाम पक्षों पर कानूनी चर्चा कर करेगा।

इस प्रतिनिधिमंडल में यशपाल बेनाम अध्यक्ष नगर पालिका पौड़ी,महेंद्र रावत अध्यक्ष आंदोलनकारी मोर्चा कोटद्वार,जगमोहन सिंह नेगी अध्यक्ष उत्तराखंड आंदोलनकारी मंच व प्रदीप कुकरेती महामंत्री आंदोलनकारी मंच वार्ता में शामिल होकर आगे की रणनीति पर मंथन करेंगे।
उत्तराखंड राज्य आंदोलनकारी लीगल सैल के अध्यक्ष एवं अधिवक्ता नैनीताल हाईकोर्ट रमन कुमार साह ने बताया कि मुजफ्फरनगर कांड के गवाह जो कि पुलिस कांस्टेबल था उसकी हत्या हो गई थी जिसकी सूचना सीबीआई ने कोर्ट को नही दी उसकी वजह से मुख्य दोषियों पर कानूनी कार्यवाही नही हो पा रही है उसी संदर्भ में ये महत्वपूर्ण बैठक मुजफ्फरनगर बार एसोसिएशन के साथ होनी है जिसमें आगे की रणनीति पर विचार विमर्श किया जायेगा।


रमन साह ने कहा कि ये लड़ाई लंबी है और जब तक हमको न्याय नही मिल जाता तब तक हमारा इंसाफ को लेकर संघर्ष जारी रहेगा।

उत्तराखंड