राज्य स्थापना दिवस- नैनीताल में प्रशासनिक अव्यवस्थाओं के खिलाफ धरने पर बैठे पत्रकार

राज्य स्थापना दिवस- नैनीताल में प्रशासनिक अव्यवस्थाओं के खिलाफ धरने पर बैठे पत्रकार

रिपोर्ट- नैनीताल
नैनीताल- मंगलवार को पूरे प्रदेश में राज्य स्थापना की 21 वीं वर्षगांठ धूमधाम से मनाई गई इस मौके पर जिला मुख्यालयों में विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए गए तथा राज्य आंदोलनकारियों को सम्मानित भी किया गया।

वहीं सरोवर नगरी नैनीताल में प्रशासन की अव्यवस्था के चलते अलग ही नजारा देखने को मिला एक और राज्य आंदोलनकारी अलग-थलग दिखे तो वहीं मीडिया कर्मी भी प्रशासन की व्यवस्था से खफा नजर आए मीडिया कर्मियों को भी कार्यक्रम की कोई सूचना नहीं मिली जिसके चलते मीडिया कर्मी भी इधर-उधर भटकते रहे।
वहीं मल्लीताल पंत पार्क में आम आदमी पार्टी द्वारा राज्य आंदोलनकारियों की अनदेखी को लेकर धरना प्रदर्शन किया गया।
प्रशासन की अव्यवस्था के चलते पत्रकारों को कार्यक्रम की सूचना नही मिलने से पत्रकार भी निराश नजर आए जिसके चलते पत्रकारों द्वारा डीएसए मैदान के मुख्य मंच के सामने जमीन में बैठकर 10 मिंट तक सांकेतिक धरना दिया गया जिसके बाद जिलाधिकारी धीराज गर्ब्याल सहित तमाम प्रशासनिक अधिकारियों के मान मनोबल के बाद पत्रकार कार्यक्रम का हिस्सा बने।


आम आदमी पार्टी का कहना था कि 21 वर्षों में भाजपा व कांग्रेस दोनों ही सरकारों ने केवल जनता को ठगने का काम किया है और कहा कि जिस मकसद से राज्य का गठन हुआ था उस मकसद को दोनो ही पार्टियां भूल चुकी है साथ ही राज्य आंदोनलकारियों की शहादत को भी भूल चुके है।

वहीं दूसरी ओर पूर्व विधायक व राज्य आंदोलनकारी नारायण सिंह जंतवाल के नेतृत्व में राज्य आंदोलनकारी तल्लीताल से जुलूस निकालते हुए और शहीदों हम शर्मिंदा हैं तुम्हारे कातिल जिंदा है के नारों के साथ मल्लीताल तक पहुंचे। आंदोलनकारियों का कहना था कि राज्य स्थापना को 21 वर्ष पूरे हो चुके हैं। लेकिन अभी तक भी दोषियों को सजा नही मिल पाई है।

उत्तराखंड