ईमानदारी का परिचय- लौटाए डेढ़ लाख रुपए

ईमानदारी का परिचय- लौटाए डेढ़ लाख रुपए

रिपोर्ट- चंपावत ब्यूरो
चंपावत-(उत्तराखंड)- चंपावत जिले के बाराकोट निवासी सक्षम अधिकारी घर से 1.5 लाख रुपये लेकर किसी काम के लिए लोहाघाट बाजार आए हुए थे उनके डेढ़ लाख रुपए लोहाघाट स्टेशन बाजार में कहीं गिर गए डेढ़ लाख रुपए जैसी बड़ी रकम गिरने से सक्षम काफी परेशान हो गए तथा अपने साथियों के साथ गिरे हुए रुपए खोजने लगे पर रुपए नहीं मिले जिसके बाद लोहाघाट थाने में रुपए खोने की सूचना दी गई।

लोहाघाट थाने के एसओ जसवीर सिंह चौहान के नेतृत्व में पुलिस टीम के द्वारा सीसीटीवी कैमरे की मदद से रुपए ढूंढने की कोशिश करी गई पर रुपयों का कोई पता नहीं चल पाया।
[banner caption_position=”bottom” theme=”default_style” height=”auto” width=”100_percent” count=”-1″ transition=”fade” timer=”4000″ auto_height=”0″ show_caption=”1″ show_cta_button=”1″ use_image_tag=”1″]
वही गिरे हुए रुपए बैंक ऑफ बड़ौदा के एटीएम के पास दुकान में काम करने वाले गरीब कामगार मयंक जोशी को मिले मयंक ने ईमानदारी का परिचय देते हुए रुपए उठाकर दुकान मालिक मुकेश जोशी को रुपए मिलने की सूचना दी तथा रुपए मालिक की ढूंढ खोज शुरू कर दी लोहाघाट पुलिस को रुपए मिलने की जानकारी दी गई तथा रुपए लेकर मयंक जोशी दुकान स्वामी मुकेश के साथ लोहाघाट थाने पहुंचे तथा एसओ जसबीर सिंह चौहान के सामने डेढ़ लाख रुपए की धनराशि रुपए के मालिक सक्षम अधिकारी को लौटा दी, खोए हुए डेढ़ लाख रुपए वापस पाकर सक्षम काफी खुश हुए और उन्होंने मयंक की ईमानदारी की प्रशंसा की सच है कि मयंक जैसे ईमानदार लोगों की वजह से ही समाज में ईमानदारी आज भी जिंदा है सक्षम ने मयंक ईमानदारी के लिए उनका आभार जताया,तो वही लोहाघाट पुलिस ने भी मयंक की इमानदारी की भूरी भूरी प्रशंसा करी साथ ही त्योहारों के मौके पर स्थानी लोगों से बाजार में किसी अन्य व्यक्ति के गिरे हुए रुपए व सामान मिलने पर तुरंत पुलिस को सूचित करने की अपील करी।

उत्तराखंड