प्रसिद्ध गंगोत्री धाम के कपाट शीतकाल के लिए बंद- गुरुवार को मां गंगा मुखबा में होंगी विराजमान

प्रसिद्ध गंगोत्री धाम के कपाट शीतकाल के लिए बंद- गुरुवार को मां गंगा मुखबा में होंगी विराजमान

रिपोर्ट- गंगोत्री धाम
गंगोत्री धाम-(उत्तराखंड) चारों धामों में से एक गंगोत्री धाम के कपाट अन्नकूट पर्व पर दोपहर 12.01 बजे विधि विधान के साथ शीतकाल के लिए बंद कर दिए गए हैं।
अब अगले छ माह तक मां गंगा के दर्शन और पूजा पाठ मुखबा में किए जायेंगे।

मंदिर को बंद करने की प्रक्रिया विधान अनुसार सुबह से ही गंगोत्री धाम में गंगा की विदाई की तैयारियां शुरू हो गई थी।
इस मौके पर गंगोत्री धाम को रंग बिरेंगे फूलों से भव्य तरीके से सजाया गया था। कपाट बंद करने से पहले गंगा जी का अभिषेक करने के साथ ही गंगालहरी,गंगा सहस्त्रनाम पाठ किया गया।
[banner caption_position=”bottom” theme=”default_style” height=”auto” width=”100_percent” group=”advertisement” count=”-1″ transition=”fade” timer=”4000″ auto_height=”0″ show_caption=”1″ show_cta_button=”1″ use_image_tag=”1″]
इस दौरान गंगोत्री मंदिर में श्रद्धालुओं ने अखंड ज्योति के दर्शन किए साथ ही तय मुहूर्त पर 12 बजकर 1 मिनट पर गंगोत्री मंदिर के कपाट बंद कर दिए गए। इसके बाद गंगा जी की भोग मूर्ति को डोली यात्रा के साथ मुखबा के लिए रवाना किया गया।

उत्तराखंड