ऐपण गर्ल ने किया नया प्रयोग- कपड़ों में उकेरी समृद्ध कला

ऐपण गर्ल ने किया नया प्रयोग- कपड़ों में उकेरी समृद्ध कला

रिपोर्ट- नैनीताल
नैनीताल- नैनीताल के ओखलकांडा निवासी पूजा पडियार ऐपण कला के जरिए राज्य ही नहीं बल्कि देश में अपनी पहचान बना चुकी है इतना ही नही इस समृद्ध कला को संरक्षित करने में अपना अहम योगदान भी दे रही है। हिंदू संस्कृति की पहचान ऐपण कला धीरे धीरे चाइनीज उत्पादों के सामने अपनी पहचान कही खोने सी लगी थी लेकिन पूजा पडियार के प्रयासों के बाद अब ऐपण कला को एक नई पहचान मिलने लगी है।
[banner caption_position=”bottom” theme=”default_style” height=”auto” width=”100_percent” group=”banner” count=”-1″ transition=”fade” timer=”4000″ auto_height=”0″ show_caption=”1″ show_cta_button=”1″ use_image_tag=”1″]
पूजा द्वारा बनाये जाने वाले ऐपणों की मांग अब धीरे धीरे बढ़ने लगी है इसके साथ ही पूजा अब कपड़ो में भी ऐपण कला को उकेरनी का काम कर रहीं है वे आजकल टोपी कुर्ती व टीशर्ट में ऐपण कला को उकेर कर कुमाउँनी संस्कृति को जीवंत रख रही है।
पूजा बताती हैं कि इसके लिए उनके पास कई एडवांस बुकिंग भी आ चुकी है।

आपको बता दें कि इससे पहले सूबे के पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत द्वारा पूजा को सम्मानित किया गया था और नैनीताल पहुँचे प्रसिद्ध बॉलीवुड कलाकार रॉनित रॉय द्वारा भी उनके ऐपण कला की जमकर तारीफ की गई थी।

उत्तराखंड